जम्मू-कश्मीर: यूपी से कश्मीर लाये गए लड़के क्या शामिल थे पत्थरबाज़ी में

0
181

श्रीनगर /सहारनपुर –  कश्मीर में सेना के जवानों पर पत्थरबाजी करने वाले युवकों में सहारनपुर और बागपत के कुछ युवकों के भी शामिल होने पर अंदेशा जताया जा रहा  है। बताया जा रहा है कि एसएसपी सहारनपुर ने इसकी जांच के लिए एक विशेष टीम का भी गठन कर  दिया  है। टीम शिकायतकर्ता तीनों युवकों से पूछताछ कर रही है , युवकों ने पुलिस को बताया कि एक ठेकेदार उन्हें सिलाई के काम करने के लिए 20000 रूपये की पगार देनी कहकर पुलवामा लेकर गया था,  वहां सेना के सर्च ऑपरेशन के दौरान उन्हें जबरन पत्थरबाजी करने के लिए भेजा जाता था। लेकिन वो किसी तरह बचकर भाग निकले l ऐसी ही शिकायत बागपत के कुछ युवकों ने भी कही है l  बताया गया है कि पत्थरबाजी न करने पर उन्हें मारने की धमकी दी जाती थी l  सूत्रों से पता चला है कि पूछताछ में युवक ने बताया कि आतंकवादियों पर सैन्य कार्रवाई के दौरान सेना के जवानों का ध्यान भटकाने के लिए उन्हें पत्थरबाजी करने जाने का दबाव बनाया जाता था, इसके लिए उन्हें एक विशेष कुर्ता दिया जाता था। वह लोग एक बार पत्थरबाजी करने भी गए। लेकिन इसकी आधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं की गई है।  कश्मीर के पुलवामा में फैक्ट्री मालिक की कैद से भागे बागपत और सहारनपुर जिले के छह युवकों में से एक से पूछताछ जारी है, पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि युवकों की शिकायत ले ली गई है, ये मामला बहुत गंभीर है l  इसकी जांच की जाएगी और दोषी आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी l