फरीदाबाद – सिरफिरे युवक ने देश की सेवा में जाने वाली छात्रा की हत्या की

0
140

फरीदाबाद – अग्रवाल कॉलेज बल्लभगढ़ में सिरफिरे युवक ने कॉलेज के बाहर एक
छात्रा की गोली मारकर हत्या कर दी। छात्रा की पहचान बी.कॉम तृतीय वर्ष की
निकिता के रूप में हुई l बताया जा रहा है कि यह एक तरफा प्यार का मामला
था ,आरोपी मेवात निवासी  तौफिक 12वीं कक्षा तक निकिता के साथ पढ़ा था और
इसने पहले भी निकिता का अपहरण कर लिया था l आरोपी ने सोमवार को कॉलेज के
सामने की इस वारदात को अंजाम दिया l सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक हमलावर
अपने साथी के साथ कार में सवार होकर आया था। उसने पहले छात्रा को कार में
खींचने का प्रयास किया लेकिन असफल रहने पर गोली मार दी।  छात्रा के पिता
मूलचंद तोमर मूलरूप से यूपी के हापुड़ निवासी हैं। लंबे समय से यहां
सेक्टर-23 के पास रिहायशी सोसायटी में रहते हैं, उन्होंने बताया कि आरोपी
निकिता पर दोस्ती के लिए दबाव डालता था, मगर उसने इसके लिए साफ इन्कार कर
दिया था। उसने साल 2018 में छात्रा का अपहरण भी किया था। इस संबंध में
परिवार वालों ने आरोपी तौफिक के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया था , पुलिस
ने छात्रा को उसके कब्जे से छुड़ा लिया था । तब आरोपी के परिवार ने
निकिता के परिवार से पैर पकड़कर माफी मांगी और आश्वासन दिया था कि तौफिक
आज के बाद कभी उसे परेशान नहीं करेगा। इस आश्वासन के बाद निकिता के
परिवार ने केस वापस ले लिया था ।

निकिता के भाई नवीन ने रोते रोते बताया कि निकिता बहुत होनहार छात्रा थी।
12वीं कक्षा में उसने 95 प्रतिशत अंक हासिल किए थे। बी.कॉम में भी वह
प्रत्येक कक्षा में टापर रही। उसकी इच्छा सेना में लेफ्टिनेंट बनकर देश
की सेवा करने की थी। कुछ समय पहले ही उसने एयरफोर्स में अधिकारी पद के
लिए परीक्षा भी दी। नवीन के मुताबिक, निकिता ने बताया था कि परीक्षा बहुत
अच्छी हुई। वह एनडीए के लिए भी लगातार तैयारी कर रही थी। सोमवार को उसका
बीकाम ऑनर्स का अंतिम पेपर था। इसके बाद वह पूरी तरह तैयारी में जुटना
चाहती थी।  नवीन ने बताया कि वह निकिता को कालेज परीक्षा दिलाने रोजाना
मोटरसाइकिल पर लेकर आता था। पास ही नवीन की मौसी का घर है। जब तक परीक्षा
होती, नवीन मौसी के घर रहता। परीक्षा होने पर वह उसे घर लेकर जाता था।
2018 में ही अगर उसे जेल भिजवा देते तो शायद यह नौबत नहीं आती।

परिवार ने नाराज होकर सोहना रोड पर बैठ गया है कि हम न्याय मिलने तक सड़क पर ही बैठे रहेंगें l
हैरान कर देने वाली इस घटना में सीसीटीवी में साफ नज़र आ रहा है कि आसपास लोग आते जाते रहे किसी ने रोकने की कोशिश नहीं की l