नई दिल्ली – अब करनाल तक जाएगी रैपिड रेल 

0
109

नई दिल्ली -(एजेंसी) दिल्ली के सराय काले खां और पानीपत के बीच प्रस्तावित हाईस्पीड रैपिड रेल को अब करनाल तक बनाया जाएगा। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने इस बारे में निर्देश दिए हैं। रैपिड रेल का निर्माण करने वाली सरकारी कंपनी एनसीआर ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन का कहना है कि अब पानीपत और करनाल के बीच के हिस्से के लिए डीपीआर तैयार की जाएगी। उसके बाद दोनों ही सरकारों से औपचारिक मंजूरी ली जाएगी। एनसीआर ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन के अधिकारियों का कहना है कि दरअसल, यह रैपिड रेल सराय काले खां से पानीपत तक बनाई जाने का प्रस्ताव था। लगभग 143 किमी की इस रैपिड रेल लाइन के लिए डीपीआर तैयार हो चुकी है, लेकिन सोमवार को हुई बैठक में हरियाणा के मुख्यमंत्री का निर्देश मिलने के बाद अब नए सिरे से डीपीआर बनाई जाएगी। इस तरह से दिल्ली और करनाल हाईस्पीड रैपिड रेल से जुड़ जाएंगे।103 किलोमीटर लंबे दिल्ली-पानीपत Corridor में 17 RRTS स्टेशन (सराय काले खां सहित) होंगे। इस परियोजना के तहत पहले पानीपत नॉर्थ स्टेशन आखिरी स्टेशन था, लेकिन मुख्यमंत्री ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस Corridor का करनाल तक विस्तार किया जाए।

इन तीन RRTS Corridor का कुल मार्ग रेखा 291.67 किलोमीटर है जिसमें से 50 प्रतिशत यानी 149.31 किलोमीटर से अधिक हरियाणा में पड़ता है। इसलिए इन Corridor के पूरा होने के बाद गुरुग्राम, रेवाड़ी, सोनीपत, पानीपत और करनाल के यात्रियों को फायदा होगा। इस Corridor का उद्देश्य दिल्ली को सोनीपत, गन्नौर, समालखा, पानीपत और करनाल से जोडऩा है। इस Corridor के बनने से न केवल यात्रा के समय में कटौती होगी, बल्कि पूरे क्षेत्र में पर्यावरण और आर्थिक लाभ भी होगा।