करनाल -पश्चिम बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं पर हो रही हिंसा के विरूद्ध भाजपा का सांकेतिक धरना

0
33

करनाल – पश्चिम बंगाल में चुनाव परिणाम के बाद हो रही हिंसा के विरोध में लघु सचिवालय के सामने सांसद संजय भाटिया सहित भाजपा के जिलाध्यक्ष योगेन्द्र राणा, मुख्यमंत्री के प्रतिनिधि संजय बठला, मेयर रेनू बाला गुप्ता, नीलोखेड़ी के पूर्व विधायक भगवानदास कबीरपंथी ने कोरोना नियमों का पालन करते हुए सांकेतिक धरना दिया और हिंसा की घोर निंदा की तथा राष्ट्रपति शासन की मांग की।
इस मौके पर सांसद संजय भाटिया ने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल में चुनाव परिणाम के बाद टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा हिंसा का नंगा नाच किया जा रहा है जोकि लोकतंत्र के विरूद्ध है। इस तांडव के विरोध में भाजपा देशव्यापी धरने का आयोजन कर रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं की पहचान कर उनके घर जलाना, उनकी हत्याएं करना, मारपीट करना और उनकी दुकानें लूटने की घटनाएं पूरे पश्चिम बंगाल में देखने को मिल रही हैं जोकि निंदनीय है। चुनाव के बाद सारी जनता सरकार के लिए एक समान होनी चाहिए यही प्रजातंत्र है। उन्होंने कहा कि चुनाव जीतने के लिए भी झूठ की राजनीति की गई, धर्म विशेष के लोगों को भड़काया गया। इस संबंध में भी चुनाव आयोग को शिकायत दी गई थी।
सांसद ने कांग्रेस और कम्युनिस्टों पर भी निशाना साधते हुए कहा कि इन दोनों दलों ने भी पश्चित बंगाल के चुनाव में घृणा की राजनीति का परिचय दिया है और कईं वर्षों तक वहां राज करने के बाद अपने को शून्य पर लाकर खड़ा किया है। सांसद ने प्रश्र का उत्तर देते हुए कहा कि भाजपा का प्रत्येक कार्यकर्ता हमारे पारिवारिक सदस्य की तरह है और निश्चय ही उनके साथ हुई हिंसा के समय में पूरी भाजपा उनके परिवार के साथ खड़ी है और उनके दुख को सांझा करने के लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा व देश के गृह मंत्री अमित शाह पश्चिम बंगाल का दौरा कर रहे हैं।
मौके पर मौजूद भाजपा के जिलाध्यक्ष योगेन्द्र राणा ने भी राष्ट्रपति शासन की मांग करते हुए कहा कि जीत के बाद टीएमसी का असली चेहरा सामने आया है। इनके कार्यकर्ताओं द्वारा की जा रही तोडफ़ोड़ और हत्याएं प्रजातंत्र के लिए घातक हैं। केन्द्र सरकार कानून व्यवस्था बिगडऩे की स्थिति में पश्चिम बंगाल की सरकार के खिलाफ अवश्य ही ठोस कदम उठाएगी। धरने के दौरान सीएम के प्रतिनिधि संजय बठला ने भी पश्चिम बंगाल में हो रही हिंसा की निंदा करते हुए वहां की सरकार के खिलाफ कार्यवाही की मांग की और कानून व्यवस्था कायम रखने तथा हत्या व लूटपाट की घटनाओं से पीडि़त परिवारों की मदद करने की अपील की।
इस मौके पर मेयर रेनू बाला गुप्ता ने भी हिंसक घटनाओं की निंदा की और कहा कि ऐसी घटनाओं की प्रजातंत्र में कोई जगह नहीं है। साफ-सुथरे प्रजातंत्र के लिए जरूरी है कि हम विपक्ष की भावनाओं को आहत न करें और जीत के बाद उन्हें निशाना न बनाएं। उन्होंने ने भी केन्द्र सरकार से कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए उचित कार्यवाही की मांग की।
धरने पर बैठे पूर्व विधायक भगवानदास कबीरपंथी ने कहा कि पश्चिम बंगाल में द्वेष और घटिया मानसिक राजनीति के तहत हो रही हिंसा बेहद निंदनीय है, इसके लिए सीबीआई जांच होनी चाहिए और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही होनी चाहिए तथा जरूरत पडऩे पर वहां राष्टï्रपति शासन लगना चाहिए। इसी के मद्देनजर भाजपा द्वारा सांकेतिक धरना दिया जा रहा है।